Work at Home से अब तनाव में हैं कामकाजी लोग लोटना चाहते हैं ऑफिस 

” वर्क एट होम ”  से शारीरिक और मानसिक तनाव में अधिकतर कामकाजी 

नई दिल्ली | covid 19 के चलते सभी कंपनी ने वर्क एट होम को प्राथमिकता दी लेकिन अब कुछ समय वर्क एट होम के बाद अधिकतर कामकाजी महिला पुरुष ऑफिस का रुख करना चाहते हैं क्योकि घर से काम करने का कोई तय समय सीमा नहीं रहीं दूसरा मुख्य कारण ऑनलाइन वेबिनार व् ऑनकॉल से लोगों को तनाव महसूस होने लगा हैं एक ही दिन में कई बार कई घंटो उन्हें ऑनलाइन मीटिंग में रहना पड़ रहा हैं जिसके कारण उन्हें हेडफोन के अधिक इस्तेमाल से कानों में दर्द रहने की शिकायत होने लगी हैं और घंटो लेपटॉप के सामने बेठने से कई लोगो को स्लिप डिस्क की समस्या भी हो रहीं हैं इन मुख्य कारण से घर से काम करने का आनंद अब फीका पड़ने लगा है।

 

साभार

मनीष ने कहा – वर्क एट होम के रूप के कार्यरत कर्मचारी मनीष ने कहा की घर से काम करना मुश्किल हो रहा हैं क्योकि काम का समय तय नहीं होने से अब उन्हें हर वक्त अपने ऑफिस काम के लियें उपलब्ध रहना पड़ता हैं वही कंपनी के अनगिनत कॉल अधिक परेशान करते हैं वही रोज सुबह 10 बजे प्रतिदिन उन्हें ऑनलाइन मीटिंग लेनी पड़ती हैं जिसके बाद कंपनी बॉस लगातार कॉल पर रहते हैं तो उनसे सम्पर्क रखना पड़ता हैं जिससे जो काम का रिजल्ट आना चाहियें वो नहीं आ रहा क्योकि कई घंटे तो कॉल और बेनिनार मीटिंग की तैयारी और मीटिंग मे ही निकल जाता हैं  |

निजी जीवन पर नकारात्मक प्रभाव – 

कामकाजी महिला – पुरुष क्योकि घर से ही काम कर रहें हैं तो परिवार के लोग भी उन्हें अधिक घेरलू कार्य में शामिल करते हैं और छोटे बच्चे भी घर पर हैं और पत्नी पति दिन भर साथ हैं तो अनावश्यक बाते भी सामने आ रहीं है जिससे टकराव भी हो रहा हैं  जिससे कामकाजी लोग अपना रिजल्ट नहीं दे पा रहें जिससे बॉस की नज़रों में वह गलत साबित हो रहें हैं क्योकि बॉस सोचते हैं की व्यक्ति घर बेठ कर भी सही से काम नहीं कर पा रहा हैं तो आगे क्या काम करेगा ऐसे तमाम बाते इस समय कामकाजी लोगों के सामने आ रहीं हैं जिससे आर्थिक तंगी व् जॉब छुट जाने के डर से कामकाजी लोगों के लियें यह समय सही साबित नहीं हो रहा |

सा भार

गूगल की नई पेशकश – तनाव मुक्त रहें कर्मचारी 

कर्मचारियों में बढ़ते तनाव और चिंता को देखते हुए गूगल ने अपने कर्मचारियों के लिए सप्ताह में एक दिन के अवकाश की घोषणा की है।
कोविड-19 की शुरुआत के बाद से वैश्विक आर्थिक मंदी के साथ जीवनशैली में भारी बदलाव आया है इससे लोगो मे चिंता और असुरक्षा की भावना घर करने लगी है शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य सुनिश्चित करने के लिए तथा कर्मचारियों में सकारात्मकता बढ़ाने के लिए कम्पनिया अपने स्तर पर कर्मचारियों को मनोरंजन सम्बंधित गतिविधियों की शुरुआत की जा रही है।

इस वैश्विक महामारी में गूगल ने अपने कर्मचारियों को कुछ फण्ड भी दिया हैं जिससे वह हाई स्पीड इंटरनेट, आरामदायक कुर्सी या अन्य जरूरत के समान खरीद सके घर से काम कर सकें कंपनियां घर पर आफिस स्थापित करने के लिए भत्ते भी दे रही है।कम्पनिया अपने कर्मचारियों को खुश करने के लिए उनके घर सरप्राइज गिफ्ट पहुचा रही है और जिनका घर रेड एरिया में है उनके घर परचून का सामान पहुचने की सुविधा भी दे रही है |