70 लाख से अधिक अभिभावकों को बड़ा झटका – अब स्कूलों में देनी होगी 100 % फीस , प्राइवेट स्कूलों की जीत – अभिभावक हताश ,  जानें क्या कहा अभिभावकों ने

सुप्रीम कोर्ट – कोरोना काल की भी फ़ीस देनी होगीं अभिभावको 100 प्रतिशत  

 

प्राइवेट स्कूल v /s अभिभावक 

 

  70 लाख से अधिक अभिभावकों को बड़ा झटका – अब स्कूलों में देनी होगी 100 % फीस , प्राइवेट स्कूलों की जीत – अभिभावक हताश 

 

जयपुर | कोविड 19 विश्विक महामारी और लॉक डाउन के चलते देश की अर्थव्यवस्था डगमगा गई हैं कई लाखों परिवारों के पास तो भोजन करने का प्रयाप्त पैसा तक नहीं बचा था इस कठिन दौर में सरकार , एन जीओ , सिविल सोसाइटी , सामाजिक कार्यकर्त्ताओं ने और आम नागरिकों ने आपसी मदद व् भाईचारे से एक दुसरे का साथ दिया जिसके चलते इस वैश्विक महामारी कोविड 19 से भारत देश में अधिक श्रति नहीं हुई लेकिन लॉक डाउन ने आम आदमी के काम धंधें जरुर चले गयें , अब व्यक्ति अपने जीवन में  संघर्ष कर रहा हैं तो प्राइवेट स्कूलों ने भी कोरोना काल की फीस मांगने में कोई कसर नहीं छोडी |
जयपुर से अभिभावक ने कहा ( ऋषभ शर्मा ) – यह फैसला अभिभावकों के विरोध में हैं हम इस फैसलें से संतुष्ट नहीं हैं हमारे सयुंक्त अभिभावक संघ की बैठक में आगामी निर्णय की कार्य योजना बनाई जायेगीं |
प्रदेश के लाखों अभिभावकों को झटका
* अभिभावकों को कोरोनाकाल की देनी होगी पूरी फीस 
* सुप्रीम कोर्ट ने हाई कोर्ट के आदेश पर लगाई रोक
* जस्टिस एएम खानविलकर व जस्टिस दिनेश माहेश्वरी की बैंच ने लगाई रोक
* साल 2019-20 में तय फीस के हिसाब से देनी होगी पूरी फीस
* 6 किस्तों में अभिभावक चुका सकते है फीस
* 5 मार्च को देनी होगी पहसी किस्त
* भारतीय विद्या भवन, एसएमएस व अन्य स्कूलों की अपील पर दिया आदेश
* अधिवक्ता प्रतीक कासलीवाल, अनुरूप सिंघी व अन्य की पैरवी