भारत : 24 घंटों के दौरान 43 लाख से अधिक टीके लगाए गए , कुल टीकाकरण कवरेज 8 करोड़ से अधिक जानें ख़ास रिपोर्ट

भारत ने एक दिन में सर्वाधिक टीकाकरण की उपलब्धि हासिल की, पिछले 24 घंटों के दौरान 43 लाख से अधिक
टीके लगाए गए

कुल टीकाकरण कवरेज 8 करोड़ से अधिक हुई

कोविड 19 के परीक्षण की कुल संख्या 25 करोड़ के पार पहुंची

 

नई दिल्ली |

कोविड 19 के खिलाफ लड़ाई में भारत ने एक ऐतिहासिक उपलब्धि हासिल की है। पिछले 24 घंटों के दौरान 43 लाख से अधिक लोगों को टीके की खुराक दी गई। यह एक दिन में देश में अब तक का सबसे बड़ा टीकाकरण कवरेज है।

टीकाकरण अभियान के 80वें दिन (05 अप्रैल, 2021), 43,00,966 टीके लगाए गए। इनमें से 48,095 सत्रों के माध्यम से 39,00,505 लाभार्थियों को टीके की पहली खुराक दी गई जबकि 4,00,461 लाभार्थियों ने टीके की दूसरी खुराक प्राप्त की।

 

दिनांक 05 अप्रैल, 2021
एचसीडब्ल्यू एफएलडब्लूएस गंभीर बीमारियों के साथ 45 से <60 वर्ष से अधिक 60 साल से अधिक कुल उपलब्धि
पहली खुराक दूसरी खुराक पहली खुराक दूसरी खुराक पहली खुराक दूसरी खुराक पहली खुराक दूसरी खुराक पहली खुराक दूसरी खुराक
29,819 27,117 83,159 1,28,453 23,33,147 45,189 14,54,380 1,99,702 39,00,505 4,00,461

 

एक अन्य महत्वपूर्ण उपलब्धि के तहत, देश में आज कोविड 19 टीकाकरण की संख्या 8.31 करोड़ से अधिक हो गई है। पहली खुराक के टीकाकरण ने 7 करोड़ (7,22,77,309) खुराक के ऐतिहासिक आंकड़े को पार कर लिया है।

प्रारंभिक रिपोर्ट के मुताबिक देशभर में कोविड-19 टीकाकरण के आज सुबह 7 बजे तक 12,83,816 सत्रों के माध्यम से कुल 8,31,10,926  टीके की खुराक दी गई। इनमें 89,60,061 स्वास्थ्यकर्मी (एचसीडब्ल्यू) शामिल हैं जिन्हें पहली खुराक लगी और 53,71,162 वो स्वास्थ्यकर्मी हैं जिन्हें दूसरी डोज दी गई है। 97,28,713 फ्रंटलाइन वर्कर्स (एफएलडब्ल्यू) को पहली, जबकि 42,64,691 फ्रंटलाइन वर्कर्स दूसरी डोज दी जा चुकी है। 60 वर्ष से अधिक उम्र के 3,41,06,071 लाभार्थियों को पहला टीका तथा 60 वर्ष से अधिक उम्र के 8,12,237   लाभार्थियों को दूसरा टीका लग चुका है। 45 वर्ष से अधिक उम्र के 1,94,82,464 लाभार्थियों को पहला टीका तथा 45 वर्ष से अधिक उम्र के 3,85,527 लाभार्थियों को दूसरा टीका लग चुका है।

 

एचसीडब्ल्यू एफएलडब्लूएस 45 साल से अधिक 60 साल से अधिक  

कुल

पहली खुराक दूसरी खुराक पहली खुराक दूसरी खुराक पहली खुराक दूसरी खुराक पहली खुराक दूसरी खुराक
89,60,061 53,71,162 97,28,713 42,64,691 1,94,82,464 3,85,527 3,41,06,071 8,12,237 8,31,10,926

 

नीचे दिया गया ग्राफ देश में कोविड 19 के खिलाफ दैनिक टीकाकरण खुराक में वृद्धि को इंगित करता है।

देश में कोविड 19 के परीक्षण की संख्या ने 25 करोड़ का आंकड़ा पार कर लिया है। पॉजिटिव मामलों की दर मामूली रूप से बढ़कर 5.07% हो गई है।

पिछले 24 घंटों में 96,982 नए मामले दर्ज किए गए हैं।

महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु, दिल्ली, मध्य प्रदेश और गुजरात सहित आठ राज्यों में कोविड के दैनिक नए मामलों में वृद्धि दर्ज की गई है। इन 8 राज्यों से  80.04% नए मामले सामने आए हैं।

महाराष्ट्र में सबसे अधिक दैनिक नए मामले 47,288 दर्ज किए गए हैं। इसके बाद छत्तीसगढ़ में 7,302 और कर्नाटक में 5,279 नए मामले सामने आए हैं।

 

जैसा कि नीचे दर्शाया गया है, बारह राज्य दैनिक नए मामलों में वृद्धि प्रदर्शित कर रहे हैं।

 

 

भारत में कुल सक्रिय मामले 7,88,223 तक पहुंच गए हैं। इन मामलों में अब देश में कुल पॉजिटिव मामलों का 6.21 प्रतिशत शामिल है। पिछले 24 घंटों में कुल सक्रिय मामलों में से 46,393 मामलों की कमी दर्ज की गई।

देश के कुल सक्रिय मामलो में महाराष्ट्र का योगदान 57.42 फीसदी है।

भारत की कुल ठीक होने वाले मामलों की संख्या (रिकवरी) आज तक 1,17,32,279 हो गई है। राष्ट्रीय रिकवरी दर 92.48 प्रतिशत है।

पिछले 24 घंटों में 50,143 रिकवरी दर्ज की गई हैं।

पिछले 24 घंटों में 446 मौतें हुई हैं।

नई मृत्यु का 80.94 प्रतिशत हिस्सा 8 राज्यों से दर्ज किया गया है। महाराष्ट्र में अधिकतम मृत्यु की संख्या(155) है। पंजाब में प्रतिदिन 72 मौतें दर्ज की गई हैं।

 

 

भारत की कुल ठीक होने वाले मामलों की संख्या (रिकवरी) आज तक 1,17,32,279 हो गई है। राष्ट्रीय रिकवरी दर 92.48 प्रतिशत है।

पिछले 24 घंटों में 50,143 रिकवरी दर्ज की गई हैं।

पिछले 24 घंटों में 446 मौतें हुई हैं।

नई मृत्यु का 80.94 प्रतिशत हिस्सा 8 राज्यों से दर्ज किया गया है। महाराष्ट्र में अधिकतम मृत्यु की संख्या(155) है। पंजाब में प्रतिदिन 72 मौतें दर्ज की गई हैं।

पिछले 24 घंटों में तेरह राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों से कोई भी कोविड-19 मृत्यु की सूचना नहीं मिली है। इनमें ओडिशा, असम, पुदुचेरी, लद्दाख (केन्द्र शासित प्रदेश), दमन और दीव तथा दादरा और नागर हवेली, नागालैंड, मेघालय, मणिपुर, त्रिपुरा, लक्षद्वीप, मिजोरम, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह और अरुणाचल प्रदेश शामिल हैं।