उत्तर भारत में शीतलहर जारी, राजस्थान के कई इलाके भीषण ठंड की चपेट में

जयपुर। उत्तर भारत के कई हिस्सों में शीतलहर जारी है। दिल्ली में दर्ज हुआ इस मौसम का सबसे न्यूनतम तापमान। राजस्थान के सीकर जिले का फतेहपुर प्रदेश का सबसे ठंडा स्थान रहा। जहां लगातार तापमान माइनस तीन डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

वहीं चूरु में भी तापमान जमाव बिंदु के नीचे पहुंच गया। राजधानी जयपुर, कोटा, अजमेर में न्यूनतम तापमान लुढककर चार डिग्री दर्ज किया गया। घने कोहरे के कारण कई स्थानों पर सड़क और रेल यातायात पर बुरा प्रभाव पड़ा है।

उत्‍तर भारत के कई भागों में शीतलहर जारी है। दिल्‍ली में कल इस मौसम का सबसे ठंडा दिन रहा और न्‍यूनतम तापमान सामान्‍य से तीन डिग्री कम होकर चार दशमलव दो डिग्री सेल्सियस पर आ गया। जम्‍मू-कश्‍मीर में श्रीनगर में रात का तापमान शून्‍य से पांच दशमलव छह डिग्री सेल्सियस नीचे चला गया।

श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग में यातायात में आए दिन की बाधाएं भी कश्मीर घाटी में लोगों की कठिनाईयों को ठण्ड के इस मौसम में बढ़ा रही हैं। चंडीगढ़ में तापमान छह दशमलव छह डिग्री सेल्सियस रहा। पूरे उत्तर प्रदेश में तापमान सामान्य से कई डिग्री नीचे चला गया है।

श्रीनगर में न्यूनतम तापमान के शू्न्य के पांच दशमलव छह तक नीचे गिरने से झीले, झरने और पानी के नल जम गए हैं और पीने के पानी की किल्लत पैदा हो गई हैं। बिजली आपूर्ति पर भी सख्त ठण्ड का भी विपरित असर पड़ रहा है।

हिमाचल प्रदेश में कुफरी, मनाली, सोलन, भुंतर, सुंदरनगर और कालपा में भी तापमान शून्‍य से नीचे बना रहा। हरियाणा के हिसार में कल रात का तापमान छह डिग्री सेल्सियस गिरकर शून्‍य दशमलव तीन डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

मौसम विभाग ने अगले दो दिन में देश के पूर्वी और मध्‍य क्षेत्र के भी शीतलहर की चपेट में आने की संभावना व्‍यक्‍त की है।

अलीगढ़ प्रदेश का सबसे ठंडा स्थान रहा, जहां तापमान तीन दशमलव छह डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। झांसी में चार डिग्री सेल्सियस पर लोग ठिठुरते रहे। अधिकांश स्थानों पर स्कूलों को 31 दिसम्बर तक के लिए बंद कर दिया गया है।

सरकार ने जिला अधिकारियों को रैन बसेरो में सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराने के निर्देश दिये हैं। कोई भी गरीब खुले आसमान के नीचे या सड़क के किनारे न सोये इस बात की हिदायत दी गई है।

%d bloggers like this: