कांग्रेस ने कहा- बैंक घोटालों पर संसद में जवाब दें मोदी

नई दिल्ली। कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के आरोपियों नीरव मोदी और मेहुल चौकसी से नजदीकी का आरोप लगाते हुए उनसे इन दोनों को स्वदेश लाने के लिए सरकार द्वारा की जा रही कार्रवाई के बारे में संसद के दोनों सदनों में वक्तव्य देने की आज मांग की।राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद और उप नेता आनंद शर्मा ने यहां संसद भवन परिसर में मीडिया से कहा कि कांग्रेस के सदस्यों ने सदन में कामकाज रोककर बैंक घोटाले के मुद्दे पर चर्चा कराने के लिए नियम 267 के तहत नोटिस दिया था लेकिन सरकार इस बारे में जानकारी देने की अपनी जिम्मेदारी से भाग रही है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को इस मुद्दे पर स्थिति स्पष्ट करने के लिए स्वयं ही वक्तव्य देना चाहिए था लेकिन ऐसा नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि देश में एक के बाद एक घोटाले हो रहे हैं और लोगों की गाढी कमाई के पैसे को लूटकर घोटालेबाज विदेश भाग रहे हैं। कांग्रेस नेताओं ने कहा कि प्रधानमंत्री के साथ नीरव मोदी का दावोस में एक ही फ्रेम में फोटो है और दूसरे आरोपी मेहुल चौकसी को प्रधानमंत्री अपने आवास पर एक बैठक में बुलाते हैं और उसे नाम से संबोधित करते हैं इससे मोदी की इनके साथ नजदीकी का पता चलता है। उन्होंने कहा कि कहीं इसी कारण से तो इनके खिलाफ कार्रवाई नहीं हो पा रही है।

आजाद ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी यह दावा करती है कि मोदी दुनियाभर में सबसे लोकप्रिय नेता हैं , अगर यह बात सही है तो वह अपनी जान-पहचान का इस्तेमाल कर घोटाले कर देश से भागे 4 आरोपियों को वापस क्यों नहीं लाते हैं। उन्होंने कहा कि देश जानना चाहता है कि सरकार नीरव मोदी, मेहुल चौकसी, जतिन मेहता और ललित मोदी को वापस लाने के लिए क्या कर रही है।

ED ने नीरव मोदी समूह की और 523 करोड़ की संपत्तियां जब्त की

नई दिल्ली। पीएनबी घोटाले के मुख्य आरोपी और हीरा व्यापारी नीरव मोदी पूरे प्रकरण पर जांच एजेंसियों को कोई सहयोग नहीं दे रहे, ऐसे में प्रवर्तन निदेशालय अब कड़े तेवर में आ गया है और उन्हें ‘भगोड़ा’ घोषित करने की तैयारी में जुट गया है.पीएनबी में 11300 करोड़ रुपये के महाघोटाले के आरोपी नीरव मोदी पर सख्ती बढ़ती जा रही है। ईडी ने मनीलॉन्ड्रिंग निरोधक कानून के तहत नीरव मोदी समूह की 21 संपत्तियों को कुर्क किया है। इसमें फ्लैट और फार्महाउस शामिल हैं। कुर्क की गई इन संपत्तियों की कीमत 523 करोड़ रुपये बताई जा रही है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) नीरव मोदी के ठिकानों पर लगातार कार्रवाई कर रहा है। इससे पहले मुखबिर की सूचना पर शुक्रवार को एक गोदाम में भी छापा मारा गया था। तब ईडी के हाथ कई कीमती घड़ियां लगी थीं। बताया जा रहा है कि नीरव मोदी के इस ठिकाने से करीब 10 हजार महंगी घड़ियां जब्त की गईं। घड़ियों को 176 स्टील की अलमारियों, 158 डिब्बों और 60 प्लास्टिक के बक्सों में भरकर रखा गया था।

30 करोड़ रुपये बैलेंस वाला खाता भी सील

इसके साथ ही नीरव मोदी के बैंक खातों से 30 करोड़ रुपये और सीज किए गए हैं। ईडी ने 13.86 करोड़ रुपये के शेयर्स भी सीज किए हैं। बता दें कि इससे पहले ईडी ने नीरव और उनकी कंपनी की करोड़ों रुपये की 9 आलीशान कारों को जब्त किया था। मंगलवार को सीबीआई ने मुंबई स्थित अलीबाग में 27 एकड़ में बने नीरव मोदी के आलीशान फॉर्म हाउस को भी खंगाला था।

ईडी ने तीसरा समन भी भेजा


पीएनबी फ्रॉड में आरोपी नीरव मोदी के जवाब पर ईडी ने उन्हें फिर समन भेजा है। यह नीरव को ईडी द्वारा भेजा गया तीसरा समन है। इसमें नीरव मोदी को 26 फरवरी को पेश होने को कहा गया है। पेश नहीं होने पर प्रत्यर्पण की कार्रवाई होगी। इससे पहले पीएनबी फ्रॉड मामले में नीरव मोदी ने चिट्ठी लिख ईडी के सामने पेश होने से इनकार किया था। नीरव ने बिजनस के सिलसिले में विदेश में होने की बात कही थी। इसके बाद तीसरा समन जारी किया गया।

%d bloggers like this: