PM मोदी की हत्या की साजिश रचने वाला गिरफ्तार, कौन है वो शख्स? जानिएं….

नई दिल्ली। पुलिस ने मंगलवार को मोहम्मद रफीक नाम एक शख्य का गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने इसे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की हत्या की साजिश रचने के आरोप में गिरफ्तार किया है। रफीक 1998 कोयंबटूर ब्लास्ट केस में दोषी रह चुका है। मोहम्मद रफीक को पुलिस ने उस समय गिरफ्तार किया है जब उसका और ट्रक कॉन्ट्रैक्टर प्रकाश नामक एक शख्स के बीच टेलीफोन पर हुई बातचीत का एक ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

मीडिया खबरों के अनुसार पुलिस ने मोहम्मद रफीक को मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं गिरफ्तारी के बाद रफीक को 15 दिनों की न्यायायिक हिरासत में भेज दिया गया है। वहीं जो ऑडियों वायरल हुआ है उसमें रफीक को यह प्रधानमंत्री मोदी को जान से मारने के बारे में सुना जा सकता है। मीडिया खबरों के अनुसार पुलिस ने रफीक को गिरफ्तार कर उसे न्यायिक मैजिस्ट्रेट आर पांडे की अदालत पेश किया गया जहां से उसे 7 मई तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

मीडिया खबरो के अनुसार पुलिस ने बताया कि रफीक का प्रकाश से कुछ पैसों के लेन-देन का विवाद था। इसलिए दोनों ही फोन पर इस विवाद को सुलझाने की कोशिश कर रहे थे। इसी बातचीत के दौरान रफीक कह रहा है कि हमने पीएम मोदी की हत्या की साजिश रची है। रफीक ने यह भी कहा कि उसने तमिलनाडु की सभी जेलों को देखा है।

जब 1998 में लालकृष्ण आडवाणी कोयंबटूर की यात्रा पर थे, तब हमने ही बम लगाया था। मामले को लेकर मीडिया खबरो की माने तो पुलिस का कहना है कि प्रारंभिक जांच में यह खुलासा हुआ है कि वह केवल प्रकाश को डराने के लिए पीएम मोदी को मारने की बात कह रहा है। उसने हत्या की साजिश नहीं रची थी। उल्लेखनीय है कि कोयंबटूर में 1998 में बम धमाके हुए थे। इन बम धमाकों में करीब 58 लोगों की मौत हुई थी और करोड़ों की संपत्ति का नुकसान हुआ था।

साल 2007 में ही हुआ था रिहा तब से था पुलिस रडार पर
आपकों बता दें कि रफीक की साल 2007 में सजा की अवधि समाप्त होने के बाद वह जेल से बाहर आया था। जेल से बाहर आने के बाद से ही वह पुलिस रडार पर था। क्यांकि इसके बाद रफीक के खिलाफ कई मामले दर्ज हुए थे।

%d bloggers like this: