रेड वॉर्निंग: शीतलहर जारी रहने के मद्देनज़र, मौसम विभाग ने खतरनाक स्‍तर की चेतावनी जारी

जयपुर। मौसम विभाग ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली, उत्तरप्रदेश, बिहार, हरियाणा, राजस्थान और पंजाब में आज और कल के लिए रेड वॉर्निंग जारी की है। यह सबसे गंभीर स्‍तर की चेतावनी है, जिसमें जान-माल को सर्वाधिक नुकसान होने की आशंका रहती है और लोगों को आमतौर पर यात्रा करने से बचने की सलाह दी जाती है।

उत्तर भारत के कई इलाकों में शीतलहर की वजह से कड़ाके की ठंड पड़ रही है और अनेक स्थानों पर तापमान मौसम के न्यूनतम औसत स्तर से नीचे चला गया है। दिल्ली में आज इस मौसम का सबसे ठंडा दिन रहा। आज सुबह घने कोहरे के कारण दृश्यता बहुत कम हो गई जिससे रेल और हवाई यातायात पर असर पड़ा।

श्रीनगर में न्यूनतम तापमान के शू्न्य से पांच दशमलव छह तक नीचे गिरने से झीले, झरने और पानी के नल जम गए हैं और पीने के पानी की किल्लत पैदा हो गई है। बिजली आपूर्ति पर भी सख्त ठण्ड का भी विपरित असर पड़ रहा है।

श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग में यातायात में आए दिन की बाधाएं भी कश्मीर घाटी में लोगों की कठिनाइयों को ठण्ड के इस मौसम में बढ़ा रही हैं। मौसम विभाग ने शीतलहर के और तेज होने का पूर्वानुमान व्यक्त किया है।

जम्मू-कश्मीर में जम्मू और श्रीनगर को जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग 44 पर आज वाहनों को एक तरफा चलने की अनुमति दी गई। खराब मौसम की वजह से इस राजमार्ग पर एक हजार से अधिक वाहन अलग-अलग स्थान पर रुके हुए हैं।

उत्‍तर प्रदेश में कड़ाके की ठंड के कारण जन-जीवन अस्‍त-व्‍यस्‍त है। सरकार ने गरीबों और बेसहारा लोगों को ठंड से बचाने के लिए विशेष इंतेजाम किये हैं। हिमाचल प्रदेश के कई इलाकों में आज तापमान शून्य से नीचे चला गया।

मुजफ्फर नगर एक दशमलव सात डिग्री सेन्‍टीग्रेट तापमान के साथ देश का सबसे ठंडा स्‍थान रहा। कानपुर और झांसी में दो डिग्री और दो दशमलव तीन डिग्री तापमान दर्ज किया गया। राजधानी लखनऊ में न्‍यूनतम तापमान तीन दशमलव पांच डिग्री तथा अधिकतम तापमान 14 दशमलव चार डिग्री दर्ज किया गया।

ओड़िशा के ज्यादातर इलाके शीतलहर की चपेट में हैं और सोनपुर में तापमान चार डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो राज्यभर में इस मौसम का सबसे कम तापमान है। मौसम विभाग ने पश्चिम बंगाल के अधिकांश जिलों में अगले 24 घंटों में शीतलहर की चेतावनी दी है।

कोहरे के कारण सड़क, रेल और हवाई यातायात बुरी तरह प्रभावित हुआ है। कम दृश्‍यता के चलते प्रदेश में दर्जनों ट्रेने छह घंटे की देरी से चल रही हैं। जिला प्रशासन को जनपदों में सार्वजनिक स्‍थानों पर अलाब जलाने और बेसाहारा लोगों को कम्‍बल वितरित करने के निर्देश दिये गए हैं।

राजस्थान में कोहरे का येलो अलर्ट, सात शहरों में पारा 2 डिग्री पंहुच

जयपुर। माउंट आबू में रात का पारा गिरने से सुबह कार की छत पर ओस की बूंदें बर्फ बन गईं। राजस्थान में कड़ाके की ठंड लगातार जारी है। बीती रात अधिकतर शहरों को तापमान 10 डिग्री के नीचे रिकॉर्ड किया गया।

मौसम विभाग की मानें तो बीती रात माउंट आबू में पारा 4.0 डिग्री दर्ज किया गया। जयपुर में भी रात का पारा दो डिग्री बढ़कर 7.0 डिग्री दर्ज हुआ। प्रदेश के 17 से अधिक शहरों का पारा अब भी 10 डिग्री से नीचे बना हुआ है।

फतेहपुर में पारा 2.8 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। यहां सर्द हवाओं का दौर लगातार जारी है। ठंड के कारण लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। कई जगह कोहरा छाया रहा। इससे ट्रेनें प्रभावित हुईं। प्रदेश में 10 ट्रेनें 1 घंटे तक की देरी से चली।

मौसम विभाग ने बताया कि प्रदेश के 18 शहरों में ठंड के साथ कोहरा रहने की संभावना है। इसमें अलवर, बारां, भरतपुर, भीलवड़ा, बूंदी, चित्तोड़गढ़, दौसा, धोलपुर, झालावाड़, झुंझुनू, करौली, कोटा, सवाई माधोपुर, सीकर, टोंक, चूरू, हनुमानगढ़ और श्रीगंगानगर में तेज ठंड के साथ कोहरे का येलो अलर्ट जारी किया गया है।

बीती रात हिल स्टेशन माउंटआबू में पारा 4.0 डिग्री दर्ज किया गया। 21 दिसंबर के बाद मौसम में फिर बदलाव होने की संभावना है। 21 दिसंबर के बाद मौसम में फिर बदलाव होने की संभावना है। 21-22 दिसंबर को बादल और हल्की बूंदाबांदी की संभावना बन सकती है।

जयपुर मौसम विभाग के निदेशक शिव गणेश का कहना है कि उत्तर क्षेत्र से ठंडी हवाए पश्चिम की ओर आने से रात के तापमान में गिरावट के साथ-साथ ठंडक बढ़ी है।

%d bloggers like this: