राजस्थान मालपुरा में “गोधरा कांड” जैसी घटना – क्षेत्र में तनाव

मालपुरा – कांवड़ियों पर समुदाय विशेष द्वारा हमला – आखिर क्यों

टोंक | मालपुरा में कावड़ यात्रिओं पर समुदाय विशेष द्वारा एका -एक हुए हमले ने जो हिंसक रूप लिया है वह आज हमे विचलित करने वाला है , आखिर क्यों कांवडियो पर समुदाय विशेष के लोगों ने हमला किया – यह प्रश्न जांच का विषय है |

कावड़ियों से मारपीट

क्या है पूरा मामला – 

23 अगस्त को कांवड़ यात्रा निकल रही थी जैसे ही यात्रा एक मज्ज्दि के सामने से निकली तो समुदाय विशेष के लोगो द्वारा यात्रिओं पर लाठी – सरियो से हमाल किया जिसमे 16 लोग घायल होगये , जिसके बाद माहौल ख़राब हो गया भीड़ ने आगजनी की घटना की |

आखिर यह घटना क्या दर्शाती है –

गोरतलब है की गुजरात में भी गोधरा काण्ड कुछ इस ही तरह की घटना द्वारा होवा था तब राज्य के मुख्यमंत्री वर्तमान प्रधानमंत्री मोदी थे , उस वक्त की घटना बाद

राज्य में हिन्दू -मुस्लिमो में दंगे हो गए थे , जिसका परिणाम घातक था जो सबके सामने था , आज उसी घटना क्रम में मालपुरा खड़ा है |

धारा 144 –

मालपुरा में धटना के बाद स्थिति तनाव पूर्ण है प्रशासन ने राज्य में इंटरनेट सेवा बंद कर रखी है क्षेत्र में अब लोग अपराधियों को गिरफ्तार करने व् तिरंगा यात्रा निकालने के लिए कोशिश कर रहे है जिसको लेकर पुलिस व् जनता आमने -सामने आ गई है |

शांति के लिए प्रयास –

घटना के बाद पुलिस व् राजनेताओं द्वारा शांति के लिय पुर छोर कोशिश जारी है लेकिन लोग अपराधियों को पकड़ने की मांग पर अड़े है |

केवल1 वोट से बने विधायक कल्याण सिंह का निधन….

जयपुर। भाजपा के दिग्गज नेता कल्याण सिंह बुधवार लंबी बीमारी के चलते दुनिया से रुख़सत हो गए। जानकारी के अनुसार चौहान लंबे समस से कैंसर से झूझ रहे थे। जिसके चलते रात 2 बजे उनकी तबीयत बिगड़ गई। और रात 2 बजे उन्होने अंतिम सांस ली।

कल्याण सिंह चौहान का पिछले कुछ दिनों से उदयपुर के एक निजी हॉस्पिटल में उपचार चल रहा था। जानकारी के अनुसार मूल गांव डगवाड़ा में अंतिम संस्कार किया जाएगा। आपको बता दें कि 2008 के विधानसभा चुनाव में उन्होंने कांग्रेस के सीएम पद के प्रत्याशी सीपी जोशी को एक वोट से हराकर उन्हे मुख्यमंत्री पद की दावेदारी से दूर कर दिया था।

199 के आंकड़े पर में फिर विधानसभा

आपको बता दें कि राजस्थान विधानसभा एक बार फिर 199 के फेर में आ गई है। इससे पहले मांडलगढ़ विधायक कीर्ति कुमारी के निधन के बाद हाल ही में हुए उपचुनाव में विवेक धाकड ने हाल में शपथ ली थी। इससे पहले धौलपुर विधायक कोर्ट द्वारा सजा सुनाए जाने के बाद खाली हुई सीट के बाद 199 के फेर में विधानसभा पर हा गई थी।

Source : Google 

%d bloggers like this: