राजस्थान: महिलाओं ने पद्मावत रिलीज को लेकर की ये मांग

भीलवाड़ा। राजस्थान में फिल्म पद्मावत की रिलीज को लेकर संजय लीला भंसाली की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। कोर्ट के आदेश के बाद फिल्म की रिलीज होने को लेकर राजस्थान सहित कई राज्यों में फिल्म को लेकर सर्वसमाज के लोग प्रदर्शन और हिंसा पर उतर आए है। अब खबर आ रही है कि राजस्थान के भीलवाड़ा जिले में भी श्रेत्राणी महिलाओं ने फिल्म को रिलीज नहीं करने के लिए राष्ट्रपति से गुहार लगाई है।

जानकारी के अनुसार राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना की ग्यारह क्षत्रिय महिलाओं ने बुधवार को भीलवाड़ा में जिला कलेक्टर को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन देकर फिल्म पद्मावत पर बैन नहीं करने के विरोध में इच्छा मृत्यु देने की मांग की। करणी सेना की महिला विंग की जिलाध्यक्ष प्रतिभा कंवर चूंडावत के नेतृत्व में दस अन्य क्षत्रणियों ने इच्छा मृत्यु से संबंधित हस्ताक्षरयुक्त अलग-अलग पत्र जिला कलेक्टर की अनुपस्थिति में जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी गजेंद्र सिंह को सौंपे।

करणी सेना के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष योगेन्द्र सिंह कटार ने बाद में पत्रकारों से कहा कि क्षत्रिय समाज ने पद्मावत फिल्म में गलत दृश्यों को लेकर सर्वोच्च स्तर तक विरोध पहुंचाया है फिर भी सरकारों ने सकारात्मक सहयोग नहीं दिया है। अब समाज ने यह मुद्दा जनता की अदालत में डाल दिया है इसलिए फिल्म को किसी भी हालत में किसी भी टॉकीज में चलने नहीं दिया जाएगा, समाज इसके लिए एकजुट है।

%d bloggers like this: