PM मोदी ने बाबा साहेब के लिए कही ये बात-

नई दिल्ली। एक तरफ जहां पूरे देश में एससी/एसटी ने सोमवार को भारत बंद का एलान किया था और पूरे देश में बंद का असर देखा गया था। आखिरकार इस मामले को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को भी बयान देना पड़ा है। पीएम मोदी ने बुधवार को बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की विरासत का राजनीतिकरण करने के लिए राजनीतिक दलों पर निशाना साधा।उन्होंने इस दौरान कहा कि उनकी सरकार ने बाबा साहब का सम्मान बढ़ाने का जितना कार्य किया, उतना किसी दूसरी सरकार ने नहीं किया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बुधवार को नई दिल्ली वेस्टर्न कोर्ट एनेक्सी की नई इमारत के उद्घाटन कार्यक्रम में यह बात कही।

 

उन्होंने इस दौरान यह भी कहा कि आंबेडकर को राजनीति में नहीं घसीटना चाहिए बल्कि उनके दिखाए हुए रास्ते पर चलना चाहिए। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि अंबेडकर के नाम पर केवल राजनीति की गई। उन्होंने कहा कि अलीपुर रोड स्थित जिस मकान में बाबा साहब ने अंतिम सांस ली, उसे अंबेडकर जयंती की पूर्व संध्या पर राष्ट्र को सर्मिपत किया जाएगा। पीएम मोदी कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि अटल सरकार के समय आंबेडकर से जुड़े दो भवनों के निर्माण की योजना बनाई गई। बाद की सरकारों ने केवल राजनीति की। अब जाकर हम उस योजना को पूरा करने के लिए तैयार हैं।

जब मैंने शिलान्यास किया था तो कहा था कि 2018 अप्रैल में इसका लोकापर्ण करूंगा। 13 अप्रैल को उसका लोकार्पण है और 14 अप्रैल को बाबा साहब आंबेडकर का जन्मदिन। आपको बता दें कि पीएम मोदी का बयान उस समय आया है जब पूरे देश में एससी-एसटी अत्याचार निवारक कानून पर उच्चतम न्यायालय के फैसले को लेकर भारत बंद के दौरान देश के कई हिस्सों में भारी विरोध प्रदर्शन देखने को मिला। इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए कहा था कि वह दलितों, आदिवासियों के खिलाफ हो रहे अत्याचारों और एससी/एसटी ऐक्ट को शिथिल बनाये जाने जैसे मुद्दों पर एक भी शब्द क्यों नहीं बोल रहे हैं।

SC/ST एक्ट में संशोधन के खिलाफ जयपुर में प्रदर्शन

जयपुर। राजस्थान में एससी/एसटी एक्ट में संशोधन के खिलाफ मीन सेना, युवा जाट महासभा, भीम आर्मी और भीम सेना आदि कई संगठन भारत बंद के आह्वान पर सडक़ों पर उतर आएं है। एससी/एसटी एक्ट पर उच्चतम न्यायालय के ताजा फैसले के बाद दलित संगठनों के भारत बंद के आह्वान पर सोमवार को राजस्थाान में भी प्रदर्शन और रैलियां निकाली जा रही हैं। इस दौरान कई स्थानों पर तोडफ़ोड़ और संघर्ष की खबरें भी मिल रही हैं।राजस्थान राजधानी जयपुर के महेश नगर थाना इलाके में दुकानों में तोडफ़ोड़ के बाद पत्थर फेंके जाने की घटना सामने आई है। इसे लेकर व्यापारियों में खासा रोष है। वहीं पुलिस भी मौके पर पहुंच चुकी है लेकिन भीड़ के आगे बेबस नजर आ रही है। भारत बंद के आह्वान पर कालाडेरा में दुकान बंद कराने को लेकर विवाद हो गया। यहां दुकान बंद कराने गए लोगों का व्यापारियों ने विरोध किया तो भीड़ तोडफ़ोड़ पर उतारु हो गई। इस दौरान दो दुकानों में तोडफ़ोड़ के बाद तनाव पैदा हो गया

दलित वर्ग उतरे सडक़ों पर

जयपुर, भरतपुर, अजमेर, धौलपुर, सवाईमाधोपुर, करौली सहित राज्य में बसपा और अन्य राजनीतिक व सामाजिक संगठनों के साथ दलित ने बंद का आह्वान किया है। दलित वर्ग सडक़ों पर हैं। बंद के दौरान कई जगह तनाव की स्थिति उत्पन्न हुई है।जयपुर में सोमवार को सवेरे ही भीम सेना, अम्बेडकर मंच बसपा से जुड़े कार्यकर्ता सवेरे 9 बजे ही दुकानें बंद कराने के लिए निकल गए थे। भरतपुर में रैली निकाली, अजमेर के अराई में ढाबा बंद कराने को लेकर दो पक्षों के बीच पत्थरबाजी हो गई। श्रीगंगानगर व सूरतगढ़ में बाजार बंद कराने को लेकर दो पक्ष आमने सामने हो गए जिससे तनाव हो गया पुलिस के इंतजाम के कारण वे जोर जबरदस्ती नहीं कर पाए।

जयपुर में चारदीवारी में दिन में बंद का असर

जयपुर में चारदीवारी में दिन में बंद का असर दिखाई दिया। चार दीवारी के बाहर बंद का कोई खास असर नजर नहीं आया है। इसी तरह सवाई माधोपुर, करौली, भरतपुर, धौलपुर में बंद का असर रहा लेकिन, अजमेर, जोधपुर, बीकानेर, उदयपुर में बंद ज्यादा असर नहीं दिखा।अनुसूचित जाति, जनजाति अत्याचार निवावरण अधिनियम (एसएसी/एसटी एक्ट) को लेकर आए सुप्रीम कोर्ट के हालिया फैसले के विरोध में दलित और आदिवासी संगठनों ने देशभर में दो अप्रेल को भारत बंद का आह्वान किया है। इसके मद्देनजर राजस्थान समेत कई राज्यों में एहतियातन सुरक्षा बंदोबस्त किए गए हैं। वहीं, केंद्र सरकार ने कहा है कि वह एससी/एसटी एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश के खिलाफ सोमवार को पुनर्विचार याचिका दायर करेगी।

प्रशासन चाक चौबंद

प्रदर्शनकारी बाजार बंद करवाने को सुबह से अलग-अलग टोलियां में सडक़ों पर निकल आएं। भारत बंद के आह्वान को देखते हुए राजस्थान पुलिस ने भी सुरक्षा व्यवस्था के बंदोबस्त कड़े किए गए। प्रदर्शनकारियों की टोलियों के साथ पुलिस की जीप भी नजर आ रही हैं।

रविशंकर प्रसाद ने कहा- SC/ST मामले में पुनर्विचार याचिका दायर करेगी सरकार

नई दिल्ली। अनुसूचित जाति / जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के संदर्भ में सुप्रीम कोर्ट के हाल के फैसले से पिछले एक सप्ताह से उठे विवाद के बीच विधि एवं न्याय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने गुरुवार को स्पष्ट किया कि सरकार शीर्ष अदालत के निर्णय के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दाखिल करेगी।प्रसाद ने केंद्रीय मंत्रिमंडल की बुधवार को हुई बैठक में लिए गए फैसलों के बारे में जानकारी देने के लिए आयोजित संवाददाता सम्मेलन में यह बात कही। उन्होंने पत्रकारों के सवालों के जवाब में बताया कि यह फैसला काफी दुर्भाग्यपूर्ण है और सरकार ने इसका संज्ञान लिया है। विधि एवं न्याय मंत्रालय से शीर्ष अदालत के आदेश का अध्ययन कर इसके खिलाफ पुनर्विचार याचिका दायर करने के लिए कहा गया है।

गौरतलब है कि उच्चतम न्यायालय ने पिछले दिनों यह आदेश दिया था कि अनुसूचित जाति / जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के क्रियान्वयन के मामले में आरोपी को तुरंत सीधे गिरफ्तार करने और आपराधिक मामले दर्ज करने की बजाय पहले मामले की प्राथमिक जांच की जाए और सक्षम अधिकारी की अनुमति से ही गिरफ्तारी हो। इससे पहले बुधवार को लोक जनशक्ति पार्टी के प्रमुख एवं खाद्य आपूर्ति मंत्री राम विलास पासवान और भारतीय रिपब्लिकन पार्टी (ए) के प्रमुख एवं सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री रामदास आठवले ने भी सरकार की ओर से एक संवाददाता सम्मेलन का आयोजन कर कहा था कि कानून मंत्रालय न्यायालय के फैसले का अध्ययन करा रहा है और जल्दी ही पुनर्विचार याचिका दाखिल की जाएगी।

बुधवार को ही राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के अनुसूचित जाति एवं जनजाति से जुड़े मंत्रियों और सांसदों के एक प्रतिनिधिमंडल ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात की थी। प्रतिनिधिमिंडल में पासवान और आठवले के साथ ही केन्द्रीय मंत्री थावर चंद गहलोत, जुएल उरांव, अर्जुन राम मेघवाल, विजय टमटा, विजय सांपला तथा कई अन्य सांसद शामिल थे। विपक्षी नेताओं ने भी बुधवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलकर इस मामले में तत्काल हस्तक्षेप करने की मांग की थी।

राहुल ने मोदी पर साधा निशाना, कहा- हर चीज में लीक है,चौकीदार वीक है

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सीबीएसई की बोर्ड की परीक्षाओं समेत कई सारे लीक को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आज एक बार फिर तुकबंदी के जरिए निशाना साधते हुए कहा कि चौकीदार वीक (कमजोर) है।

राहुल ने ट्विटर पर हैशटैग बस एक और साल के साथ सरकार पर हमला बोला। गौरतलब है कि मोदी सरकार के कार्यकाल का अब एक साल बचा है।राहुल ने हिंदी और अंग्रेजी शब्दों के साथ किए ट्वीट में कहा, कितने लीक? डेटा लीक, आधार लीक, एसएससी परीक्षा लीक, इलेक्शन डेट लीक, सीबीएसई परीक्षा लीक। हर चीज में लीक है, चौकीदार वीक है।

 

सीबीएसई ने लीक होने की खबरें आने के बाद कक्षा 10वीं की गणित और 12वीं कक्षा की इकनॉमिक्स की परीक्षा फिर से कराने की कल घोषणा की। केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि सोमवार से एक नई व्यवस्था शुरू की जाएगी ताकि यह सुनिश्चित हो कि कोई भी लीक ना हो और साथ ही सरकार इस मामले की आतंरिक जांच करा रही है।

बार काउंसिल ऑफ राजस्थान: 12 अप्रैल से होगी मतगणना

राजस्थान। बार काउंसिल ऑफ राजस्थान के चुनावों को लेकर बुधवार को भारी संख्या में मतदान हुआ। पूरे प्रदेश में करीब 74 प्रतिशत मतदान हुआ। 12 अप्रैल को जोधपुर में मतगणना शुरू होगी। इसे लेकर सभी मतदान केन्द्रों से मतपेटियां जोधपुर भेजने का काम भी शुरू हो चुका है. बार काउंसिल ऑफ राजस्थान के कर्मचारी मतपेटियों को लेने के लिए बुधवार देर शाम ही इन केन्द्रों पर पहुंच गए थे।

वहीं बात अगर राजधानी जयपुर की करें तो यहां हाईकोर्ट समेत 6 मतदान केन्द्र बनाए गए थे। जिसमें हाईकोर्ट में सबसे ज्यादा 8 हजार मतदाता रजिस्टर्ड है। जिसमें से 4435 ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया. इसके अलावा सेशन कोर्ट, डिस्ट्रिक्ट बार, सांगानेर, आमेर और राज्य उपभोक्ता मंच में भी मतदान प्रतिशत अच्छा रहा।

मतदान के बाद हाईकोर्ट जयपुर के चुनाव अधिकारी अतिरिक्त महाधिवक्ता जगमोहन सक्सेना ने मतदान के सफल आयोजन पर अपनी पूरी टीम को बधाई दी। हाईकोर्ट जयपुर के अतिरिक्त चुनाव अधिकारी राजेन्द्र शर्मा ने बताया कि 12 अप्रैल से मतगणना शुरू होगी जोकि, लगभग दो से ढाई महीने तक चलेगी।

रास्थान उत्सव 2018 का रंगारंग आगाज, देखिये तस्वीरें

जयपुर। राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह ने बुधवार को यहां जेडीए पोलो ग्राउण्ड में राजस्थान ज्योति प्रज्ज्वलित कर राजस्थान उत्सव का रंगारंग आगाज किया। राज्यपाल ने राजस्थान उत्सव-2018 के शुभारम्भ की विधिवत घोषणा की। राज्यपाल सिंह को राजस्थान दिवस मैराथन के विजेताओं ने राजस्थान उत्सव मशाल वाहकों के साथ उत्सव की मशाल सौंपी।समारोह की शुरूआत में पुष्कर के नाथूलाल एवं समूह ने नगाड़ा वादन किया। इसके बाद राजस्थान पुलिस के आकर्षक टैटू शो ने जेडीए पोलो ग्राउंड पर बड़ी संख्या में उपस्थित दर्शकों के बीच डॉग शो, बैण्ड शो व हॉर्स शो आदि के शानदार प्रदर्शन से समा बांध दिया। कार्यक्रम की अध्यक्षता पर्यटन राज्यमंत्री कृष्णेन्द्र कौर ने की। विशिष्ट अतिथि खेल मंत्री गजेन्द्र सिंह खीवंसर थे।

 

समारोह में उत्तर प्रदेश के राज्य मंत्री संदीप कुमार सिंह, महानिदेशक पुलिस ओपी गल्होत्रा, अतिरिक्त मुख्य सचिव, युवा एवं खेल मामलात विभाग जेसी महान्ति सहित अनेक गणमान्य नागरिक मौजूद थे।मेलिनोईस डॉग्स ने जीता सबका दिल: कार्यक्रम में हुए डॉग शो में बेल्जियम शेफर्ड नस्ल के लगभग एक दर्जन डॉग्स मेलिनोईस डॉग्स ने अपने ‘हैंडलर्स’ के इशारो पर अनेक आर्कषक प्रदर्शन करते हुए सबका दिल जीत लिया। मेलिनोईस डॉग्स द्वारा दिखाए गए करतबों में बाधाओं को पार करना, अपराधी की पहचान करना, ऊंचाई पर छिपे अपराधियों तक पहुंचना, मोटर साइकिल पर भाग रहे चैन स्नेचर को दौड़ कर पकडऩा तथा बस में यात्रियों का अपहरण कर ले जा रहे आतंकियों पर चलती बस में प्रवेश कर काबू करने जैसे प्रदर्शन शामिल थे।

 

इसके साथ ही इन डॉग्स ने एक्शन ड्रिल में आर्कषक मुद्राओं का प्रदर्शन एवं ऑबिडियेंस ड्रिल के साथ अटैचियों में रखी ड्रग को पकडऩे आदि के भी हैरतअंगेज प्रदर्शन दिखाए। डॉग डेल्टा ने ग्राउंड पर प्रदर्शित किये गए भारत, पाकिस्तान, चीन व बांग्लादेश के नक्शों में से भारत के मानचित्र की पहचान कर सभी को बेहद प्रभावित किया। पुलिस सैन्ट्रल बैण्ड ने बिखेरी मधुर स्वर लहेरियां: टैटू शो में राजस्थान पुलिस के सैन्ट्रल बैण्ड ने ग्लोरियस विक्ट्री मार्च की फोरमेशन बनाने के साथ ही ‘धरती धोरा री…’ गीत की धुन बजाते हुए मधुर स्वर लहरियों से दर्शकों को मंत्र मुग्ध कर दिया। उल्लेखनीय है कि वर्ष 2005 में गठित इस बैण्ड ने गत वर्ष पंजाब में आयोजित अखिल भारतीय पुलिस बैण्ड प्रतियागिता में स्वर्ण पदक प्राप्त किया था।

 

घुड़सवारी में रिसाला दस्ते का नायाब प्रदर्शन: कार्यक्रम में राजस्थान पुलिस के रिसाला दस्ते के जवानों ने धुड़सवारी के जरिए अपनी बहादुरी व जांबाजी से भरपूर कारनामों का सिक्का जमाया। इसमें बैण्ड की सुमधुर ध्वनियों के बीच भालों के साथ दौड़ते हुए घुड़सवारों ने लहरियां, जलेबी, क्रॉसिंग आदि अलग-अलग शो दिखाए। टैटू शो में बीएसएफ की 50 महिला मोटरसाइकिल राइडर्स ने सीमा सुरक्षा बल की महिला कमाण्डो सीमा भवानी के नेतृत्व में मोटर साइकिल पर गति, संतुलन व बहादुरी के अद्भुत एवं रोमांचकारी करतब दिखाते हुए महिला सशक्तीकरण के नए दौर का परिचय कराया।

खुशखबरी! यमुना का पानी राजस्थान को मिलने पर बनी सहमति

जयपुर। राजस्थान के जल संसाधन मंत्री डॉ. राम प्रताप ने बताया कि हरियाणा के ताजेवाला हैड से यमुना का पानी राजस्थान को मिलने पर बुधवार को सहमति मिल गई है। इस योजना से प्रदेश के चूरू, सीकर एवं झुंझुनूं जिले के निवासियों की पेयजल समस्या का स्थाई समाधान हो सकेगा।

केन्द्र सरकार इस योजना में पाइप लाइन बिछाने के लिए वित्तीय सहयोग प्रदान करेगी। उन्होंने बताया कि राजस्थान को यमुना के पानी के वितरण को लेकर 1994 में राज्यों के बीच हुए समझौते के अनुसार ताजेवाला हैड से 1917 क्यूसेक पानी राजस्थान को आवंटित किया गया था। करीब 24 साल बीत जाने के बाद भी यह पानी किस प्रकार प्रदेश में लाया जाए इस पर सहमति नहीं बन पा रही थी।

जल संसाधन मंत्री ने बताया कि गत 15 फरवरी को हुई अपर यमुना रिव्यू कमिटी की बैठक में केन्द्रीय जल संसाधन मंत्री नितिन गडकरी के समक्ष इस मांग को पुरजोर तरीके से उठाया गया था। उन्होंने पाइप लाइन के माध्यम से पानी राजस्थान लाने और केन्द्र सरकार द्वारा वित्तीय सहयोग मुहैया कराने का प्रस्ताव रखा था। अब दोनों मांगों पर सहमति प्रदान कर दी गई है, जिसका कार्यवाही विवरण बुधवार को राज्य सरकार को प्राप्त हुआ। मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने जल संसाधन विभाग को इस योजना की डीपीआर जल्द से जल्द बनाने के निर्देश दिए हैं।

राहुल गांधी ने BJP पर साधा निशाना, कहा…

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने हाल में सामने आए एक मीडिया स्टिंग के हवाले से बीजेपी पर पलटवार करते हुए बुधवार को आरोप लगाया कि वे विरोधियों को बदनाम करने के लिए झूठ गढऩे और तथ्यों को तोड़ मरोड़ कर पेश करने के बिजनेस में लिप्त है।

गांधी ने ट्वीट किया मैं उन लोगों से कभी नफरत नहीं कर सकता जो मेरे खिलाफ झूठी कहानियां गढक़र तथ्यों को तोड़ मरोडक़र पेश करते हैं और घृणा फैलाने का काम करते हैं।

कोबरा पोस्ट खुलासे से साफ है कि उनके लिए घृणा फैलाना बिजनेस है और लाभ का धंधा है। मेरे खिलाफ उनके झूठ का जाल बुनने से मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता। कांग्रेस अध्यक्ष ने इसके साथ ही एक अंग्रेजी दैनिक के ट्वीट को भी लिंक कर पोस्ट किया है जिसमें स्टिंग का हवाला देकर कहा गया है कि 17 मीडिया संस्थान पैसे लेकर सांप्रदायिकता पर आधारित खबरें छापने को तैयार हैं।

किरोड़ीलाल मीणा ने राजस्थान विधानसभा की सदस्यता से दिया इस्तीफा

जयपुर। राज्यसभा सांसद डाॅक्टर किरोड़ीलाल मीणा ने राजस्थान विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। राज्यसभा सांसद बनने से पहले मीणा लालसाेट से विधायक थे।आपकाे बता दें कि राजस्थान से राज्यसभा की 3 सीटों के लिए भाजपा के तीनों उम्मीदवार (किरोड़ीलाल मीणा, मदनलाल सैनी आैर भूपेन्द्र यादव ) निर्विरोध निर्वाचित घोषित किए गए थे। प्रदेश की जिन तीन राज्यसभा सीटों पर निर्वाचन हुआ है। यह कांग्रेस के अभिषेक मनु सिंघवी और नरेन्द्र बुडानियां तथा भाजपा के भूपेन्द्र यादव का कार्यकाल पूरा होने से खाली हुई थी।इस चुनाव में भूपेन्द्र यादव फिर काबिज हो गए, जबकि विधायकों की संख्या कम होने के चलते कांग्रेस ने उम्मीदवार ही नहीं उतारे। भाजपा ने संख्याबल के आधार पर यादव, मीणा आैर सैनी को उम्मीदवार बनाया था।

 

किराेड़ीलाल मीणा राज्यसभा सांसद बनने से एेन पहले अपनी पार्टी राजपा के दाे विधायकाें (गाेलमा देवी, गीता वर्मा ) समेत भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए थे। एक आैर विधायक नवीन पिलानिया ने उनके साथ जाने से मना कर दिया था। कुछ दिन पहले किरोड़ी लाल मीणा के भाजपा में शामिल होने के बाद पहली बार दौसा जिले के दौरे पर आई मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और किरोड़ी लाल मीणा एक साथ मंच पर नजर आए। इस अवसर पर मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने महर्षि बालीनाथ के मंदिर का लोकापर्ण किया तथा उनका पैनोरमा बनाए जाने की घोषणा करते हुए कहा कि उनकी सरकार ने प्रदेश में 125 मंदिर बनवाए है और जिर्णोद्धार भी कराया है। ताकि प्रदेश की जनता को भगवान का आशीर्वाद मिल सके। इस अवसर पर राजे ने अपने भाषण में कहा कि प्रदेश के 13 जिलों में जिसमें दौसा और अलवर भी शामिल है में पानी की समस्या को देखते हुए 37 हजार करोड़ की योजना बनाई जा रही है।

 

इस योजना के माध्यम से प्रदेश में पेयजल समस्या को काफ हद तक दूर किया जा सकेगा। बिजली के बारे में बोलते हुए मुख्यमंत्री राजे ने किसानों की बिजली की समस्या को देखते हुए उन्हे फसल के समय 15 दिन में बिजली का कनेक्शन दिलाने की घोषणा की। साथ ही उन्होंने कहा कि आरिक्षत वर्ग को 50 हजार का ऋण 4 फीसदी ब्याज दर पर मिलेगा। राजे ने कहा कि भाजपा किसी जाति से भेदभाव नहीं करती है। सदैव एससी व एसटी का सम्मान किया है। उन्होने एस सी एस टी वर्ग के लिए अनेक योजनाएं भी चलाई है जिनसे प्रदेश का आरक्षित वर्ग लाभान्वित हो रहा है।इस दाैरान सांसद किरोड़ी लाल मीणा का कहना है कि भाजपा कभी भी आरक्षण को खत्म नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि भाजपा पिछड़े वर्गों के विकास में विश्वास रखती है।उन्होंने इशारों में कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए कहा कि समाज के कुछ वर्गों के लोग अफवाहें फैलाने में व्यस्त हैं कि भाजपा देश से आरक्षण प्रणाली को खत्म करने के सभी तरीके और साधनों पर काम कर रही है। उन्होंने कहा कि मैं प्रधानमंत्री मोदी आैर मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की तरफ से वादा करता हूं कि आरक्षण को आंच नहीं आने दी जाएगी।

अब BJP सरकार पिलाएगी 2 रुपए में चाय

इंटरनेट डेस्क। राजस्थान के जिला मुख्यालयों पर स्थित बड़े सरकारी दफ्तरों यानि जिला कलेक्टर कार्यालयों में आम आदमी के लिए अब 2 रुपए में चाय मिलेगी. प्रदेश की वसुंधरा राजे सरकार ने यह कीफायती चाय की व्यवस्था अन्नपूर्णा रसोई के जरिए शुरू की है. इसका आगाज मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने मंगलवार को श्रीगंगानगर के सूरतगढ़ में किया. मुख्यमंत्री राजे ने जिले के सूरतगढ़ में अन्नपूर्णा रसोई का फीता काटकर शुभारंभ करते हुए कहा कि प्रदेश की सभी 33 जिला कलेक्ट्रेट में लोगों को अन्नपूर्णा रसोई पर 5 रूपए में नाश्ता, 8 रूपए में भोजन के साथ-साथ 2 रुपए में चाय और आरओ का साफ पानी भी मिलेगा।

राजे ने इस अवसर पर दो अन्नपूर्णा रसोई का शुभारम्भ किया। उन्होंने कहा कि जिला कलेक्टर कार्यालयों में अपने कामों के लिए बड़ी संख्या में लोग आते हैं, उन्हें जलपान के लिए परेशान नहीं होना पडे़, इसे देखते हुए राज्य सरकार ने सस्ते भोजन के साथ-साथ 2 रूपए में चाय और स्वच्छ पेयजल की व्यवस्था करने का निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के 156 शहरों में 405 अन्नपूर्णा रसोई वेन संचालित है।15 अप्रैल तक इनकी संख्या 533 हो जाएगी। उन्होंने कहा कि गंगानगर जिले में 24 एवं हनुमानगढ़ जिले में 16 अन्नपूर्णा रसोई वेन संचालित है।

इससे पहले मुख्यमंत्री ने अन्नपूर्णा रसोई का शुभारम्भ कर वहां मौजूद महिलाओं को अपने हाथ से खाना खिलाया और खाने की गुणवत्ता के बारे में पूछा। महिलाओं ने कहा कि यह खाना घर के खाने की तरह ही स्वादिष्ट और पौष्टिक है. मुख्यमंत्री ने एवं विधायक द्रोपदी मेघवाल ने भी अन्नपूर्णा रसोई का खाना चखा।