गुजरात कोरे गाँव हिंसा में बीजेपी के मंत्री ने दिया जिग्नेश मेवाणी का साथ –

मोदी सरकार के केन्द्रीय मंत्री ने कहा, भीमा कोरेगांव हिंसा के लिए जिग्नेश मेवाणी जिम्मेदारी नहीं-

 

जयपुर । महाराष्ट्र  में एक जनवरी को भीमा कोरेगांव में दलितों पर हमला हुआ जिसमें  मेवाणी पर भडकाऊ भाषण देने का आरोप लगा ।  गुजरात के  युवा दलित नेता और विधायक जिग्नेश मेवाणी के  साथ मोदी सरकार में शामिल एक मंत्री का साथ मिला है। पुणे पुलिस द्वारा जिग्नेश मेवाणी के खिलाफ ‘भड़काऊ भाषण’ के लिए मामला दर्ज होने के बीच, केन्द्रीय मंत्री रामदास अठावले ने शनिवार को कहा कि एक जनवरी को पुणे जिले के भीमा कोरेगांव में हुई हिंसा के लिए गुजरात का यह विधायक जिम्मेदार नहीं हैं।

jignish mewani
jignesh mewani, vidhayak dalit neta

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से मिलने के बाद यहां संवाददाताओं से बात करते हुए प्रमुख दलित नेता अठावले ने कहा कि एक जनवरी को भीमा कोरेगांव के युद्ध के पूरे होने से पहले भी इस क्षेत्र में तनाव था । खबर है कि एक जनवरी को भीमा कोरेगांव में युद्ध स्मारक में आने वाले दलितों पर हमला हुआ । दलित नेताओं ने हमलों के लिए कुछ खास हिन्दुत्ववादी नेताओं को जिम्मेदार ठहराया था जबकि इन नेताओं ने एक दिन पहले दिये गये मेवाणी की ‘भड़काऊ भाषण’’ को जिम्मेदार ठहराया केन्द्रीय सामाजिक न्याय राज्यमंत्री ने कहा, ‘जिग्नेश भीमा कोरेगांव में हुई हिंसा के लिए जिम्मेदार नहीं है. क्षेत्र में एक जनवरी से पहले भी तनाव था । मैंने इलाके का दौरा किया था और तनाव कम हुआ था । इसलिए मैं 31 दिसंबर को दिल्ली वापस चला गया था इसी दिन, जिग्नेश ने पुणे के शनिवार वाडा में अपना भाषण दिया था । वह भीमा कोरेगांव नहीं गये थे। कुछ संगठनों ने रात में बैठक की थी और एक जनवरी को हिंसा हुई थी।

आपको बता दें कि पुणे में भीमा कोरेगांव लड़ाई की सालगिरह पर हुई हिंसा के मामले में गुजरात के विधायक और दलित कार्यकर्ता जिग्नेश मेवाणी और दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्र नेता उमर खालिद के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। इस मामले पर पुलिस का कहना है कि जिग्नेश मेवाणी और उमर खालिद के खिलाफ 31 दिसंबर को यहां एक कार्यक्रम में भड़काऊ भाषण देने को लेकर एक शिकायत मिली है।

 

CM राजे ने की प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात, महत्वपूर्ण विषयों पर की चर्चा

नई दिल्ली। राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने शनिवार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से नई दिल्ली में मुलाकात की। जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री के साथ राजे की यह शिष्टाचार भेंट थी।

 

मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री के साथ राजस्थान से जुडे़ कई महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा की। उन्होंने प्रधानमंत्री को नाथद्वारा श्रीनाथजी की पिछवाई भी भेंट की। इससे पहले मुख्यमंत्री ने आज राजधानी जयपुर आए उपराष्ट्रपति वैकैंया नायडू का एयरपोर्ट पर गुलदस्ता भेंट कर स्वागत किया।

राजस्थान स्तर पर रिपोटर्स व् एडिटर की आवश्यकता – अभी करे आवेदन

   

मुख्यधारा मीडिया से अलग पहचान रखने वाले वेव न्यूज़ पोर्टल व् समाचार पत्र को राजस्थान स्तर पर रिपोटर्स व्   एडिटर की आवश्यकता है |

जिन साथियों को मीडिया क्षेत्र में रूचि हो, आवेदन कर सकते है
Freshers can also apply |

http://www.politico24x7.com
contact : pawan dev – 7688827752 { call -11am to 4 pm }
e -mail : pawandev024@gmail.com

आप सभी को मेरे और मेरे परिवार की और से नववर्ष की हार्दिक शुभ कामनाये !

यह नववर्ष आपके जीवन में सुख -सम्पति वैभव और सफलता ओं से परिपूर्ण रहे ,आपको जीवन में यश मान -सम्मान प्रतिष्ठा की प्राप्ति हो ,आपका पथ ,प्रेम और सदाचार के पुष्पों से संवरा रहे ,आपका तन -मन अनंत खुशियों से खिला रहे ! देश और समाज में अमन और शांति का सद्भाव सौहार्द बना रहे , इन्ही मनोभावों के साथ आपको नववर्ष की हार्दिक शुभ -कामनाये !
” नया जोश ……………….युवा सोच ”
पवन गोयल
{ उपाध्यक्ष – जयपुर शहर जिला कांग्रेस कमेठी }

प्रशांत दुबे

{ जयपुर राज .}

पवन देव

जयपुर राजस्थान

 

 

 

 

 

पवन गोयल

राजस्थान में पिछले 12 दिनों से चली आ रही डॉक्टर्स की हड़ताल आखिर अब समाप्त हो गई है किन्तु पिछले 11 दिनों में जिस तरह से चिकित्सया व्यवस्था चरमा गई थी, वह  बहुत निराशा जनक रही  कारण कुछ भी रहा हो लेकिन इसका बड़ा नुकसान राजस्थान की आम जनता को भुगतना पड़ा है ,हड़ताल के चलते करीब 300  से ज्यादा मरीजों की मौत हुई जो

की वर्तमान सरकार की नाकामी को दर्शाती है |

में आशा कर्ता हूँ भविष्य में इस तरह की घटनाओं की पुनरावर्ती  ना हो |

” नया जोश ……………..युवा सोच

पवन गोयल

{ उपाध्यक्ष -जयपुर शहर जिला कांग्रेस कमेटी }

 

 

राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी के स्थापना दिवस पर सभी कार्यकर्ताओं को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं –

राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी के स्थापना दिवस पर सभी कार्यकर्ताओं को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं  –

कांग्रेस पार्टी आज अपने स्वर्णीय स्थापना दिवस { 28 दिसंबर } बना रही है | कांग्रेस पार्टी  133 वर्षो का सफर तय कर हुवे भारत को एक परमाणु शक्ति के रूप में  स्थापित किया है  कांग्रेस पार्टी न केवल राजनीती पार्टी है अपितु देश के विकास के लिए समर्पित सशक्त  संगठन है  राष्ट्रीय स्वाधीनता आंदोलन व भारतीय लोकतांत्रिक प्रणाली के अभ्युदय से लेकर राष्ट्र की प्रगति व सुदृढ़ता में कांग्रेस पार्टी ने ख़ास  भूमिका निभाई है

कांग्रेस स्थापना दिवस पर्व  उन ॠषितुल्य राष्ट्र निर्माताओं के पुण्य स्मरण का दिन भी है जिन्होंने अपना संपूर्ण जीवन कांग्रेस की  विचारधारा को जन -जन  तक में पहुँचाने का कार्य किया है उनके अद्भुत साहस के बदोलत ही आज देश विश्व मंच पर अपना  ख़ास स्थान रखता है | कांग्रेस पार्टी ने अपने शासनकाल में ही देश के विकास के लिए  बुनियादी ढांचा,और ख़ास परियोजनाएं लागु की  जिसके परिणाम स्वरूप  देश आज परमाणु शक्ति संपन्न  है आज देश में उच्च शैक्षणिक संस्थान ,उद्योग, श्वेत क्रांति, दूरसंचार क्रांति , रेलवे सिस्टम आदी आज जो हम  देश में देखते हैं सब कांग्रेस पार्टी की कड़ी  मेहनत और जनता के प्यार और आशीर्वाद से ही संभव हुआ  है |

देश आज युवा शक्ति राहुल गाँधी जी  के नेतृत्व में  21 वीं सदी में नये कीर्तिमान स्थापित करेगा |आज राजस्थान और कांग्रेस पार्टी का  गौरव है कि माणिक्यलाल वर्मा, सरदार हरलाल सिंह, गोकुल भाई भट्टटीकाराम पालीवाल, शोभाराम, मथुरादास माथुर, हरिदेव जोशी जैसे अनेक महान स्वतंत्रता सेनानी प्रदेश में कांग्रेस की प्रतिध्वनि रहे । अर्जुनलाल सेठी, जमनालाल बजाज, हरिभाऊ उपाध्याय जैसे महान स्वतंत्रता सेनानियों ने प्रदेश में महात्मा गांधी का विचार पथ प्रशस्त किया ।

हम सभी के लिए गौरव का विषय है कि हम कांग्रेस के महान परिवार के सदस्य हैं, स्थापना दिवस हमें त्याग, तपस्या व बलिदान से युक्त इतिहास का बोध कराता है ।

संकल्पों के पुण्य स्मरण की इस घड़ी में सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं ।

कल 28 तारीख़ को हम सभी कांग्रेस स्थापना दिवस के कार्यक्रमों में भाग लें और कांग्रेस के महान सिद्धांतों व आदर्शों को आत्मसात करने की प्रेरणा लें

“नया जोश …….युवा सोच ” 

    पवन गोयल

{ उपाध्यक्ष्- जयपुर शहर जिला कांग्रेस कमेटी }

 

 

 

क्या आप है तैयार 2018 में राजस्थान विधान सभा चुनाव के लिए –

कैसा हो चुनाव अभियान –  क्या हो रणनीति

जो जीत दिला सके

नि :शुल्क  परामर्श -7688827752 ,861949301

E –mail –      Pawandev024@gmai.com

शिक्षा के क्षेत्र में नए कीर्तिमान स्थापित कर्ता करिअर पॉइंट –

जयपुर | करिअर पॉइंट इंस्टिट्यूट के अमन शर्मा ने किया आईआईटी  टॉप –

करिअर पॉइंट शिक्षा में  क्षेत्र अघ्रनी संस्था है जो प्रत्येक वर्ष देश की  सबसे कठिन परीक्षा माने जाने वाली आईआईटी व् प्री-मेडिकल एंट्रेस एग्जाम  में अपना शत प्रतिशत परिणाम देता आ रहा है संस्था के ही अमन शर्मा  ने इस वर्ष आईआईटी में टॉप किया है वही प्री-मेडिकल एंट्रेस में राजदीप सिंह में टॉप 10 में जगह बना कर संस्था का नाम रोशन किया है |

इस अवसर पर जयपुर करिअर पॉइंट के प्रबन्धक संजय गुप्ता जी ने कहा है की देश की सबसे कठिन परीक्षा में संस्था के बच्चो ने अपना शत – प्रतिशत दिया है जिसके कारण आज आईआईटी व् प्री-मेडिकल एंट्रेस  एग्जाम में करिअर पॉइंट के स्टूडेंट ने टॉप किया है ,जिसके पीछे संस्था के टीचर्स व् स्टूडेंट्स की कड़ी मेहनत और परिश्रम है  |

जेईई एडवांस के जरिये आईआईटी में दाखिले के लिए किसी छात्र को अपने कक्षा 12 बोर्ड में भी शीर्ष 20 फीसदी में शामिल होना जरूरी है।  60 फीसदी अंक हासिल करने वाला बच्चे ही  आईआईटी में दाखिले का पात्र होते है । देश में कुल 32 बोर्ड हैं और उनका परीक्षा तथा मूल्यांकन का तरीका भी अलग-अलग है। एक ओर जहाँ  जेईई मेन की देखरेख सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन करता है  वहीं जेईई एडवांस का प्रबंधन आईआईटी के हाथ में होता है। राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान तथा सूचना प्रौद्योगिकी संस्थानों में दाखिला जेईई की मुख्य परीक्षा को आधार मानकर तय किये  जाते है|

गुरु गोरख नाथ सेवा ट्रस्ट का वार्षिक संगीतमय समारोह सम्पन –

जयपुर | आस्था का प्रतीक गुरु गोरख नाथ मंदिर इंडिया गेट सीतापुर , में हर वर्ष  की भाती  इस बार भी महायोगी गुरु गोरख नाथ  सेवा ट्रस्ट द्वारा नवरात्रि के  समापन पर भंडारे का आयोजन किया गया साथ ही ग़रीब और बेसहारा लो

गो की  सहायत की गई |

ज्ञात हो – इंडिया गेट स्थित  गुरु गोरख नाथ  मंदिर में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी समय -समय पर इसके विकास की समीक्षा करते है |

इस अवसर पर मुख्य अतिथिति पुष्पेन्द्र भारद्वाज  , अशोक सिंह राजावत , समाज सेवी बनवारी लाल बैरवा रहे |

 

 

मोदी सरकार की आर्थिक निति –

‘आर्थिक’ और ‘विदेश नीति’ पर सरकार कैसे धड़ाम से औंधे मुंह गिरी है..आंकड़े इसकी बानगी भर हैं..सबसे पहले बात आर्थिक नीति की..आरबीआई ने आज ही 2016-17 की अपनी वार्षिक रिपोर्ट जारी की है..रिपोर्ट में आरबीआई ने बताया है कि नोटबंदी के बाद चलन से बाहर किए गए 500 और 1000 रुपये के पुराने नोटों में से लगभग 99 फ़ीसदी बैंकिंग सिस्टम में वापस लौट आए हैं। सिर्फ 1 फीसदी नोट वापिस नहीं लौटे हैं। यानी नोटबंदी के बाद 15.44 लाख करोड़ में से 16 हज़ार करोड़ रुपये बैंकिंग सिस्टम में वापस नहीं लौटे हैं जो 1 फ़ीसदी है। याद कीजिये संसद में मिमयाती हुई उस आवाज़ को जिसने नोटबंदी को संगठित लूट बताया था..अब ये खेल लूट से कहीं आगे का दिखाई देता है। इस लूट का पूरा एक कुनबा है..जिसमें बड़का लूट, मंझला लूट, छोटा लूट, मामा लूट, ताई लूट, ताऊ लूट, बुआ लूट, मासी लूट सभी तरह के लूटेरे रिश्तेदार शामिल हैं। सिर्फ एक फीसदी के लिए 100 से अधिक लोगों की बलि ले ली गई। कई कम्पनियां ताबाह कर एक साथ ढेर सारे गोल्ड मेडल्स दे देने चाहिए। नोटबंदी के बाद बाजार में नौकरी के क्या हाल हैं इसे ऐसे समझिये..कुछ महीने पहले ही ABP न्यूज़ समूह के अंग्रेज़ी अखबार ‘The Telegraph’ से 700 मीडियाकर्मी को निकाल दिया गया..वजह नोटबंदी बताई गई..पिछले साल नवंबर में L&T ने बड़ी छंटनी करते हुए 14,000 लोगों को कंपनी से बाहर कर दिया..नवंबर 2016 में ही नोटबंदी से आई मंदी की वजह से शिल्पा शेट्टी का शॉपिंग चैनल डूब गया..और एक झटके में 2000 इम्प्लॉई बेरोज़गार हो गए। इसी साल मार्च में लाईको कंपनी ने भारत में अपने 85% स्टाफ को निकाल दिया..ऑन लाइन शॉपिंग कंपनी स्नैपडील ने 600 लोगों को नौकरी से निकाल कर बाहर कर दिया..कुछ महीने पहले ही विप्रो ने 600 कर्मचारियों को निकाल दिया..विप्रो से पहले ग्लोबल आईटी कंपनी काग्निजेंट में भारी तादाद में छटनी हुई..जून में भी कंपनी ने 6000 लोगों की छटनी कर दी काग्निजेंट में 72% भारतीय काम करते हैं। दिग्गज आईटी कंपनी माइक्रोसॉफ्ट भी इसी साल जून में तकरीबन 2,850 कर्मचारियों को जॉब से निकाल चुकी है..कई स्टार्टअप कंपनियों की कमर नोटबंदी की मार से टूट गई..और फंड न होने की वजह से उनपर ताला लग गया..इनमें टाइनी आउल, पेपरटैप, जूरूम्स, पर्पल स्क्वरल, फैशनारा और इंटैलिजेंट इंटरफेसेस जैसे प्रमुख स्टार्टअप का शटर डाउन हो चुका है। सबसे बड़ी बात..स्टेट बैंक ऑफ इंडिया यानी SBI कभी भी 27000 कर्मचारियों की छटनी कर सकता है..साथ ही नई भर्तियों में भी 50% की कटौती होने की संभावना है..छटनी के पीछे SBI के अपने छह एसोसिएट बैंकों के साथ होने जा रहे विलय को बताया गया है..उधर अमेरिका में एच-1 बी वीजा में कटौती की वजह से 35 लाख भारतीय कर्मचारियों के सर पर नौकरी जाने का खतरा अब भी मंडरा रहा है..सिंगापुर ने भी अपने देश में काम करने की इच्छा रखने वाले भारतीय आईटी प्रोफेशनल्स के लिए दरवाज़े-खिड़की बंद कर लिए हैं..सिंगापुर की तरफ से भारतीयों को वीजा देने पर रोक लगा दी गई है। ऑस्ट्रेलिया ने भी कुछ महीने पहले अपने अस्थायी वीजा कार्यक्रम, 457 वीजा को रद्द कर दिया। जिससे वहां काम करने वाले भारतीयों पर नौकरी जाने का खतरा मंडरा रहा है..ये फैसला भी ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने तब लिया..जब वहां के प्रधानमंत्री मैल्कम टर्नबुल ने इंडिया आकर मोदी के साथ मेट्रो में जमकर चकल्लसबाज़ी की थी..खूब सेल्फी सेल्फी खेला गया था..मेहमान की खातिरदारी हुई थी..बदले में क्या मिला? जब टर्नबुल वापस ऑस्ट्रेलिया पहुंचे, तो जाते ही वीज़ा में बदलाव का फैसला सुना दिया..जैसे मोदी साहब का भोज कड़वा था। आप पूरी दुनिया घूमकर चले आये लेकिन भारत मे इन्वेस्ट कितना आया..बता नहीं पाए..आपने नोटबंदी की, लेकिन नोटबंदी से कितना कालधान वापस आया ये भी नहीं बता पाए, विदेशों में कालधान रखने वाले 627 लोगों की लिस्ट आपके पास है..लेकिन कार्रवाई क्या हुई, पता नहीं..हर साल 2 करोड़ नौकरी, 100 दिन में कालधान और अकाउंट में 15 लाख वाली बात जुमला ही हो गई। अच्छे दिन के नाम पर हर रोज़ बच्चे, बूढ़े, बुजुर्गों को स्वर्ग का टिकट देकर ज़बरदस्ती भगवान के पास भेज रहे हैं। बाढ़, इलाज, डेंगू, चिकनगुनिया के नाम पर पट पट लोग मरे जा रहे। फिर भी आप कहेंगे कि हिसाब न करें काहे भाई ?