जो विकास 50 साल में नहीं हुआ, हमने 4 साल में कर दिखाया: मुख्यमंत्री राजे

राजस्थान वसुंधरा सरकार की चौथी वर्षगांठ के अवसर कुछ ख़ास  –

मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा कि आज़ादी के बाद जो विकास 50 सालों में भी नहीं हुआ, वे काम हमने { वसुंधरा सरकार } में मात्र चार साल में कर दिखाया  हैं। हमने सकारात्मक सोच, सकारात्मक काम और सकारात्मक ऊर्जा के साथ देश और प्रदेश के विकास का जो संकल्प लिया है उसे हर हाल में पूरा करेंगे।amzn_assoc_ad_type =”responsive_search_widget”; amzn_assoc_tracking_id =”politico24x7-21″; amzn_assoc_marketplace =”amazon”; amzn_assoc_region =”IN”; amzn_assoc_placement =””; amzn_assoc_search_type = “search_widget”;amzn_assoc_width =”auto”; amzn_assoc_height =”auto”; amzn_assoc_default_search_category =”Books”; amzn_assoc_default_search_key =”rajasthan “;amzn_assoc_theme =”light”; amzn_assoc_bg_color =”FFFFFF”; //z-in.amazon-adsystem.com/widgets/q?ServiceVersion=20070822&Operation=GetScript&ID=OneJS&WS=1&Marketplace=IN

मुख्यमंत्री  राजे ने  बुधवार को सरकार की चौथी वर्षगांठ के अवसर पर झुंझुनूं में आयोजित समारोह को संबोधित कर रही थीं। इस अवसर पर उन्होंने झुंझुनूं ज़िले के लिए 2 हज़ार 237 करोड़ के विकास कार्यों का लोकार्पण एवं शिलान्यास करने के साथ ही प्रदेश के विकास के लिए कई महत्वपूर्ण घोषणाएं कीं।

मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों की खुशहाली के लिए कई  सौगातों की बौछार करते हुए कहा कि चार साल पहले जब हमने सत्ता संभाली थी तो वादा किया था कि राजस्थान का खोया स्वाभिमान हम हर कीमत पर लौटाएंगे। आज हम विकास के कई मायनों में देश के अन्य राज्यों से आगे हैं। हमने दिन-रात मेहनत कर राजस्थान के लिए यह मुकाम बनाया है। उन्होंने कहा कि झुन्झुनूं में राष्ट्रीय खेल संस्थान, पटियाला की तर्ज पर क्रीड़ा विश्वविद्यालय के स्थान पर राज्य क्रीड़ा संस्थान की स्थापना की जायेगी। राज्य की सभी 15 खेल अकादमियों को इससे सम्बद्ध किया जाएगा।

कुंभाराम कैनाल पर पानी हम लाए-

श्रीमती राजे ने कहा कि हमने केवल 4 साल में कुंभाराम कैनाल पर पानी पहुंचाया है। हमने 172 करोड़ रूपए खर्च कर तारानगर से मलसीसर तक पाइपलाइन से पानी पहुंचाया और उसे शोधित कर झुन्झुनूं ज़िले के विभिन्न गांवों और कस्बों को दिया। अब क्षेत्र को प्रतिदिन 15 करोड़ 50 लाख लीटर पानी उपलब्ध होगा।

आज़ादी के बाद पहली बार 6,994 गांवों तक पेयजल और 1,662 तक सड़क पहुंचाई

मुख्यमंत्री ने कहा कि 50 वर्षों में प्रदेश के 16 ज़िलों के 6 हज़ार 994 गांव पेयजल से वंचित रहे जिन्हें हमने पेयजल उपलब्ध कराया। इसी तरह 22 ज़िलों के 1662 गांव जो सड़क से नहीं जुड़ पाए थे, हमने उन्हें सड़कों से जोड़ा। ऐसे कई स्थान जहाँ न सरकारी और न निजी कॉलेज था वहाँ हमने सरकारी कॉलेज खोले।

हर रोज़ 25 किमी सड़क विकास- 

श्रीमती राजे ने कहा कि आज प्रदेश में प्रतिदिन 25 किलोमीटर सड़क विकास हो रहा है। प्रदेश में हर ग्राम पंचायत में आदर्श विद्यालय की हमारी योजना के तहत आज 4 हज़ार 437 आदर्श विद्यालय विकसित हो चुके हैं। साथ ही अंग्रेज़ी माध्यम के विवेकानंद मॉडल स्कूल भी शुरू हो गए हैं।

किसानों को 58 हज़ार करोड़ के ब्याज मुक्त फसली ऋण –

मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों की खुशहाली के लिए हमने हरसंभव प्रयास किए हैं। पिछले चार वर्ष में हमने 58 हज़ार 210 करोड़ रुपए का ब्याज मुक्त फसली ऋण दिया, जो देश में एक रिकॉर्ड है। इस कार्यकाल में हम 75 हज़ार करोड़ रुपए का ब्याज मुक्त फसली ऋण देंगे|

नहीं किया राजनीतिक भेदभाव –

श्रीमती राजे ने कहा कि हमने विकास में कभी भी राजनीतिक भेदभाव नहीं किया। ज़िले के सभी विधानसभा क्षेत्रों में समान रूप से 4 वर्ष के दौरान 5 हज़ार 400 करोड़ के विकास कार्य करवाए | हम झुंझुनूं की 445 युद्ध वीरांगनाओं को विशेष पहचान पत्र जारी कर रहे हैं, जिससे उन्हें राजकीय कार्यों में प्राथमिकता मिल सकेगी। झुंझुनूं ज़िले के पूर्व सैनिकों के 1620 बच्चों को छात्रवृत्ति दी जा रही है। साथ ही द्वितीय विश्व युद्ध में भाग लेने वाले ज़िले के 398 पूर्व सैनिकों एवं विधवाओं को सरकार 4 हज़ार रुपए प्रतिमाह आर्थिक सहायता दे रही है।

श्रीमती राजे ने समारोह में ज़िले के 13 अमर शहीदों की वीरांगनाओं और परमवीर चक्र विजेता शहीद पीरूसिंह के भाई ओमप्रकाश को तलवार भेंट कर सम्मानित किया। उन्होंने मुख्यमंत्री बेटी योजना में 9 प्रतिभाशाली बालिकाओं को सम्मानित किया तथा भामाशाह पशुधन बीमा योजना के तहत 2 पशुपालकों को 40 हज़ार का चैक भेंट किया। साथ ही प्रतिभावान छात्राओं को झुंझुनू ज़िले की 13 बालिकाओं को स्कूटी की चाबी एवं लैपटॉप देकर उत्साहवर्धन किया।

ज़िला विकास पुस्तिका का विमोचन एवं प्रदर्शनी का अवलोकन किया

समारोह में सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग द्वारा प्रकाशित ज़िला विकास पुस्तिका का विमोचन किया गया। मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग द्वारा लगाई गई सुराज के चार साल प्रदर्शनी का भी अवलोकन किया। समारोह को सम्बोधित करते हुए सैनिक कल्याण सलाहकार समिति के अध्यक्ष प्रेम सिंह बाजौर ने मुख्यमंत्री का उत्साह के साथ स्वागत किया।

वीरांगनाओं को किया सम्मानित

मुख्यमंत्री ने अमर शहीदों की वीरांगना श्रीमती शारदा देवी, श्रीमती संतोष देवी, श्रीमती अलहमदो बानो, श्रीमती ज्ञानकंवर, श्रीमती सुशीला देवी, श्रीमती सुमन देवी, श्रीमती बबीता पूनियां, श्रीमती विमल कंवर,  श्रीमती रूकमा देवी, श्रीमती संजु देवी, श्रीमती सुनिता देवी, श्रीमती शारदा देवी एवं श्रीमती सुगनी देवी को सम्मानित किया।

 

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: